नेताजी की जयंती पर BJP और TMC आमने-सामने

Aaj Tak 4.5K Views
  • 129
  • 3
  • 11

Generating Download Links...

नेताजी की जयंती पर BJP और TMC आमने-सामने
#NetajiSubhashChandraBose #ParakramDivas #WestBengal #Kolkata #BJP #NarendraModi #ATVideo

Posted 9 months ago in Politics

Puneet Sharma 9 months ago

स्वाधीन भारतवर्ष के प्रथम प्रधान को कोटि कोटि प्रणाम।
🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻

Ankit Sachan 9 months ago

Analysis: आज हम आपको उनके बारे में बात कर रहे , ज़िनके बारे मै #बताने में हमारे देश के डिजाइनर इतिहासकारों और बुद्धीजीवियों #नेतायो ने हमेशा से कंजूसी की है.

Neta ji

Vijay Kumar 9 months ago

भाईयो बहनों मैंने बचपन में कोलकाता में मछली बेचा है , मुझे मालूम है मछली पकड़ना आसान काम नहीं🤣🤣

Bhart Das Bhart 9 months ago

आरएसएस और हिंदू महासभा वाले इस

देश में सबसे बड़े गद्दार हैं ये हमेशा इस देश को तोड़कर विदेशी ताकतों को फायदा पहुंचाना चाहतें हैं सुभाषचंद्र बोस (1938)

Ujjwal Kumar 9 months ago

कम से कम नेता जी सुभाष चन्द्र बोस आरएसएस के सदस्य नहीं ही थे!

Chetan Shah 9 months ago

Modi n bjp khub neta ji neta ji karte aarahe hain ..inke pote tak ko ladaya tha last assembly elections main...woh tak haar gaya tha....😂😂 Public jaanti hain...ki neta ji n rss ka dur dur tak koi rishta nahi hain...! Rss toh aazaadi ke khilaaf tha...n desh ke gaddar hain yeh log....angrejo ke agent thai...😠😠

Kirti Kumar Pal 9 months ago

नेताजी की गोपनीय फ़ाइल खुली तो क्या मिला? मोदी और संघी गद्दारो के मुह बन्द क्यो हो गए?

● नेहरुजी ने खुद INA सैनिकों का मुकदमा लड़ा था ये तो सबको मालूम है..और फ़ाइल में मिला कि कैसे नेहरुजी और कांग्रेस ने गोपनीय रणनीति बनाई थी मुकदमा जीतने के लिए..ब्रिटिश ने रणनीति जानने की भरसक कोशिश की थी पर व्यर्थ हो गए थे..

◆ गोपनीय फ़ाइल में मिला कि जब खुद नेताजी का परिवार विदेश में नेताजी की पत्नी और बेटी की सहायता करने तैयार नही था तब नेहरुजी ने उस जमाने मे नेताजी के परिवार की सहायता के लिए £15,000 का ट्रस्ट बनाया था..

● नेताजी की पत्नी के साथ नेहरुजी की गोपनीय बातें भी पूरे विस्तार से लिखी हुई है..ये बातें नेताजी के बड़े भाई शरत बोस को भी मालूम थी..

🙏 एक अंतिम वाक्य : महात्मा गांधी ने नेताजी को "देशप्रेमियों का युवराज" उपाधि से भूषित किया था..("पराक्रम दिवस" मनाना नेताजी का अपमान है)

नेताजी, आप जहाँ भी है एकबार वापस लौटिए..ये भारत आपका है और हम सब आपकी संताने है..

Satish Kumar 9 months ago

Tmc👍 bjp 👎

Santosh Mishra 9 months ago

Jai hind